Apna Dal ( S ) - Madhya Pradesh

Apna-Dal-S-Madhya-Pradesh

उत्तर प्रदेश में वर्ष 1995 में डॉ सोनेलाल पटेल जी के ‘सामाजिक न्याय और विकास’ की विचारधारा को धरातल पर चरितार्थ करते हुए, अपना दल (सोनेलाल), मध्य प्रदेश में पार्टी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल के सानिध्य में प्रदेश अध्यक्ष अमृतलाल पटेल व राजनीतिक विश्लेषक अतुल मलिकराम के मार्गदर्शन में अपने संगठन को मजबूती प्रदान कर रहा है. आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मध्य प्रदेश के अंदर, पार्टी के कार्यकर्ता पूरी सक्रियता के साथ जमीनी स्तर, प्रदेशवासियों को शोषित, वंचित, पिछड़े, मजदूर और किसान वर्ग के उत्थान हेतु जागरूक करने के साथ-साथ, संगठित करने का प्रयास कर रहे हैं.

पार्टी ने 2023 विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए, प्रदेशभर में 1 करोड़ 10 लाख नए सदस्य जोड़ने का लक्ष्य रखा है. इसके लिए सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता, ऑनलाइन मेम्बरशिप प्रक्रिया के साथ-साथ संभाग, जिले, तहसील, जनपद पंचायत, जिला पंचायत, नगर पंचायत और ग्राम पंचायत स्तर पर, व्यक्तिगत रूप से लोगों को साथ लाने के लिए प्रयत्नरत्न हैं.

मध्य प्रदेश अपना दल (एस) अपनी सम्पूर्ण ताकत के साथ प्रदेशभर में पार्टी को संगठित व सुदृढ़ करने के लिए प्रतिबद्ध है और देशभर में पार्टी की “सामाजिक न्याय और विकास” की विकासोन्मुख विचारधारा को प्रबलता से पहुंचाना है.

Smt. Anupriya Patel

Party President
Apna Dal (S) Madhya Pradesh

Minister, Govt. of India

28 अप्रैल 1981 को उत्तर प्रदेश के कानपुर में डॉ सोनेलाल पटेल जी की तीसरी बेटी के रूप में जन्मी माननीय अनुप्रिया पटेल जी की सख्शियत आज किसी परिचय की मोहताज नहीं है। 17 अक्टूबर 2009 को पिता श्रद्धेय डॉ० सोनेलाल पटेल जी के कार दुर्घटना में आकस्मिक निधन के उपरांत राजनीति की कठिन डगर पर कदम बढ़ने वाली श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने कम समय में एक उच्च शिक्षित, सरल, सौम्य, धैर्यवान और साहसी राजनेता के रूप में ख्याति अर्जित की है।

वह 2012 में वाराणसी के रोहनिया विधानसभा सीट से पीस पार्टी ऑफ इंडिया और बुंदेलखंड कांग्रेस के गठबंधन की उम्‍मीदवार बनी और पहली बार विधायक चुनी गई। इसके बाद श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने बीजेपी-अपना दल गठबंधन से 2014 का लोकसभा चुनाव, म‍िर्जापुर से लड़ा। ज‍िसे जीतकर उन्‍होंने संंसद का सफर तय क‍िया। इसके साथ ही वह केंद्र सरकार में राज्यमंत्री भी बनाई गईं। इस दौरान वह सबसे कम उम्र की कैबिनेट मंत्र‍ियोंं में से एक थीं। वहीं 2019 में भी वह मिर्जापुर से सांसद चुनी गई। ज‍िसके बाद 2021 के कैब‍िनेट व‍िस्‍तार में उन्‍हें दोबारा मंत्री पद se नवाजा गया। वर्तमान में श्रीमती अनुप्रिया पटेल, वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री का पद संभाल रही हैं।

Shri Ashish Singh Patel

Executive Chairman
Apna Dal (S) Madhya Pradesh

Minister of Technical Education of Uttar Pradesh

श्रीमान आशीष पटेल जी का जन्म 13 अगस्त 1979 में चित्रकूट के हनुमानगंज में हुआ था। उनके पिता का नाम स्व. मणिशंकर सिंह पटेल है। आशीष ने 12वीं की परीक्षा जीआईसी प्रयागराज और बीटेक की पढाई झांसी से की है। उन्होंने बीटेक के उपरांत जल निगम कानपुर में इंजीनियर के पद पर नौकरी की। 27 सितंबर 2009 को उनकी शादी अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की बेटी और वर्तमान में मोदी सरकार 2.0 में केंद्रीय मंत्री, अनुप्रिया पटेल से हुई।

पेशे से इंजीनियर आशीष पटेल का राजनीति से रिश्ता शादी के बाद ही जुड़ा। हालांकि तब आशीष सक्रीय राजनीति का हिस्सा नहीं थे। साल 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले अनुप्रिया पटेल और मां कृष्णा पटेल के बीच अपना दल के हक़ को लेकर विवाद हो गया। जिसके बाद अनुप्रिया पटेल ने अपने पति आशीष पटेल के साथ मिलकर अपना दल (सोनेलाल) नाम से पार्टी बनाई। नयी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष पटेल को बनाया गया। आशीष पटेल 2018 में विधान परिषद सदस्य चुने गए।

वहीं, उत्तर प्रदेश विधानसभा 2022 में अपना दल (एस) ने भारतीय जनता के साथ मिलकर चुनाव लड़ा और सरकार बनाई। बीजेपी ने योगी मत्रिमंडल गठन में गठबंधन के नेताओं को भी जगह दी। उसी कड़ी में अपना दल (एस) के नेता आशीष पटेल को भी योगी सरकार में मंत्री बनाया गया। वर्तमान में वह यूपी कैबिनेट में तकनीकी शिक्षा मंत्री का पद संभाल रहे हैं।

Adv. Amrit Lal Patel

Party President (MP)
Apna Dal (S) MP

Party President, Apna Dal (S), Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश के रीवा जिला से आने वाले अपना दल (एस) मप्र के प्रदेशाध्यक्ष श्री अमृतलाल पटेल को जमीन से जुड़े नेता के रूप में जाना जाता है। डॉ सोनेलाल पटेल के साथ अपना दल के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे, पेशे से वकील श्री अमृतलाल पटेल ने उत्तर प्रदेश से लेकर मध्य प्रदेश तक, अपना दल की सामाजिक न्याय और विकास की सोच को जिवंत करने का काम किया है।

राजनीति में राज करने की नीति से परे, जनकल्याण के कामों में विगत दो दशकों से अधिक समय दे चुके माननीय अमृतलाल पटेल जी को 2019 में प्रदेश अध्यक्ष के रूप में मध्य प्रदेश की कमान सौंपी गई। उनके नेतृत्व में पार्टी 2023 विधानसभा की तैयारियों में अभी से जुट गई है, जिसके अंतर्गत पार्टी ने 1 करोड़ 10 लाख से अधिक सदस्य जोड़ने का लक्ष्य रखा रखा है। विंध्याचल क्षेत्र में जनता के बीच तगड़ी पकड़ रखते हुए अमृतलाल पटेल ने एक विशाल जनसमूह में पार्टी की अलग छाप छोड़ी है।

Atul Malikram

Party Political Strategist​
Atul-malikram-ji-Apna-Dal-S-Madhya-Pradesh

Political Analyst, Business Consultant

जनसंपर्क के क्षेत्र में दो दशकों से अधिक का अनुभव रखने वाले अतुल मलिकराम, आज किसी पहचान के मोहताज़ नहीं हैं। राजनीति में विशेष रूचि रखते हुए, अतुल ने सियासी गलियारे की नब्ज़ को बखूबी समझा है और परिणामस्वरुप राजनीतिक क्षेत्र में किया गया उनका पूर्वानुमान एकदम सटीक साबित हुआ है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने की पूर्व घोषणा हो, 2018 छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने या प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे कार्यकाल की भविष्यवाणी, अतुल ने अपनी राजनीतिक सूझबूझ से सब को अचंभित किया है। राजनीतिक विश्लेषक के रूप में अपनी अलग छवि बनाते जा रहे, अतुल ने एक ऑनलाइन व्यूज प्लेटफार्म ‘ट्रूपल’ के माध्यम से समाज के कुछ अनछुए मुद्दों जैसे भारत रत्न के असल हक़दार, भारतीय मुद्रा नोटों पर नेताजी बोस, भगत सिंह जैसे वीर योद्धाओं की छवि, घुमन्तु समाज का पिछड़ापन या यूएन सतत विकास लक्ष्यों के प्रति जन-जागरूकता के लिए, क्रांतिकारी ढंग से कार्य जारी रखा है।